जिंदगी तेरा मुकाम पक्का है

जिंदगी तेरा मुकाम पक्का है,

तेरी हर कहानी का अंजाम पक्का है।

कुछ मिले या न मिले तुझे,

मिलेगी दो गज जमीन ये विश्वास पक्का है।

मिलते रहो हंसते हुए सबसे,

हर सुबह का ढल जाना पक्का है।

ईर्ष्या छोड़ प्रेम करो सभी से,

तुम्हारा अकेले जाना पक्का है।

धन के पीछे मत बनो अंधे,

कल किसी और का हो जाना पक्का है।

जिंदगी तेरा मुकाम पक्का है,

तेरी हर कहानी का अंजाम पक्का है।

Leave a Comment